Moradabad Up (uttar Pradesh) Coronavirus Today Latest News Update :coronavirus In Uttar Pradesh Health Department Sent Two Positives Home Due To The Same Name In Moroadabad – यूपी: एक जैसे थे नाम, दो निगेटिव की बजाय कोरोना पॉजिटिव को भेज दिया गया घर


ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना की रोकथाम में लगे स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही से गुरुवार को हड़कंप मच गया। कर्मचारियों ने निगेटिव दो लोगों के बजाए उनके स्थान पर दो पॉजिटिव मरीजों को क्वारंटीन सेंटर से घर भेज दिया। पॉजिटिव मरीजों और निगेटिव युवकों के एक जैसे नाम होने से यह गलती हुई। 

मामले का खुलासा हुआ तो आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग ने दोनों पॉजिटिव मरीजों को अस्पताल में भर्ती करा दिया है। मरीजों के घर जाने के बाद उनके संपर्क में आए लोगों को ढूंढ़कर क्वारंटीन किया जा रहा है।

21 अप्रैल को पीरजादा निवासी 33 साल के युवक और इंद्रा चौक निवासी 30 वर्षीय युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई। इनमें इंद्रा चौक का युवक जमात से जुड़ा है। जबकि पीरदाजा वाले युवक की कोई ट्रेवल हिस्ट्री और जमात से संपर्क नहीं है। 

दोनों ही आईएफटीएम में क्वारंटीन थे और 18 अप्रैल को उनका सैंपल लखनऊ भेजा गया। 21 अप्रैल को 80 सैंपलों में 21 लोगों की पॉजिटिव रिपोर्ट के साथ दोनों युवकों की भी पॉजिटिव रिपोर्ट आ गई। आईएफटीएम में ही क्वारंटीन 37 लोगों की निगेटिव और 22 लोगों की संशय वाली रिपोर्ट आई। स्वास्थ्य विभाग ने पॉजिटिव दोनों मरीजों को 22 अप्रैल की रात क्वारंटीन सेंटर से घर भेज दिया।

इंद्रा चौक निवासी युवक के 23 अप्रैल को घर में नजर आने पर पड़ोसियों ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी। चूंकि पड़ोसियों ने अखबारों में यह पढ़ा था कि उनके मोहल्ले का व्यक्ति पॉजिटिव पाया गया है। ऐसे में जब वह घर दिखा तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया। 

इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने क्वारंटीन सेंटर में पॉजिटिव और निगेटिव लोगों की लिस्ट क्रॉस चेक की। इसमें इंद्रा चौक के अलावा पीरदाजा निवासी पॉजिटिव युवक भी घर भेजा गया था। 

स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस की मदद से गुरुवार को दोनों पॉजिटिव युवकों को विवेकानंद नर्सिंग सेंटर में भर्ती करा दिया। युवक एक रात अपने घर में रुके हैं। उनके परिवार के लोगों को क्वारंटीन कर दिया है।

सीएमओ डा. एमसी गर्ग ने बताया कि कर्मियों की बड़ी चूक सामने आई है। इसकी जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में पता चला कि एक ही नाम के पॉजिटिव और निगेटिव युवक भी क्वांरटीन सेंटर में थे। कर्मचारियों की लापरवाही से निगेटिव युवकों को वहीं रोककर पॉजिटिव को घर भेज दिया। सीएमओ ने बताया कि दोनों युवकों के परिवार के क्वारंटीन लोगों के सैंपल भी कराए जाएंगे।

– क्वारंटीन सेंटर में चार युवकों में दो-दो युवकों के नाम एक थे। चारों युवकों के कोरोना के सैंपल हुए थे। इनमें दो युवकों की रिपोर्ट पॉजिटिव और दो युवकों की निगेटिव आई। कर्मियों की लापरवाही से निगेटिव युवकों को रोककर पॉजिटिव मरीजों को क्वारंटीन सेंटर से घर भेज दिया। पॉजिटिव दोनों मरीजों को अब विवेकानंद नर्सिंग सेंटर में भर्ती कराया गया है। – डा. एससी गर्ग, सीएमओ

चूक तो हो गई थी पर तत्काल उसे सुधार लिया गया। चिकित्सक दिन रात काम में लगे हैं। ऐसे में चूक हो सकती है पर तत्काल ही उन लोगों को वापस लाया गया। इससे बात बिगड़ते बिगड़ते रह गई। शुक्र यह है कि इनके परिवार के लोग पहले ही क्वारंटीन हैं– राकेश कुमार सिंह, डीएम

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना की रोकथाम में लगे स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही से गुरुवार को हड़कंप मच गया। कर्मचारियों ने निगेटिव दो लोगों के बजाए उनके स्थान पर दो पॉजिटिव मरीजों को क्वारंटीन सेंटर से घर भेज दिया। पॉजिटिव मरीजों और निगेटिव युवकों के एक जैसे नाम होने से यह गलती हुई। 

मामले का खुलासा हुआ तो आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग ने दोनों पॉजिटिव मरीजों को अस्पताल में भर्ती करा दिया है। मरीजों के घर जाने के बाद उनके संपर्क में आए लोगों को ढूंढ़कर क्वारंटीन किया जा रहा है।

21 अप्रैल को पीरजादा निवासी 33 साल के युवक और इंद्रा चौक निवासी 30 वर्षीय युवक की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई। इनमें इंद्रा चौक का युवक जमात से जुड़ा है। जबकि पीरदाजा वाले युवक की कोई ट्रेवल हिस्ट्री और जमात से संपर्क नहीं है। 

दोनों ही आईएफटीएम में क्वारंटीन थे और 18 अप्रैल को उनका सैंपल लखनऊ भेजा गया। 21 अप्रैल को 80 सैंपलों में 21 लोगों की पॉजिटिव रिपोर्ट के साथ दोनों युवकों की भी पॉजिटिव रिपोर्ट आ गई। आईएफटीएम में ही क्वारंटीन 37 लोगों की निगेटिव और 22 लोगों की संशय वाली रिपोर्ट आई। स्वास्थ्य विभाग ने पॉजिटिव दोनों मरीजों को 22 अप्रैल की रात क्वारंटीन सेंटर से घर भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!